खबरे सबसे तेज
Loading...
Weather जोरदार बारिश के बाद भी बढ़ी उमस

मौसम ने दो चार दिनों से करवट ली है। कई दिनों की गर्मी के बाद दो दिन मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में जोरदार बारिश हुई है। मौसम विभाग ने आज भी जोरदार बारिश की संभावना जताई है। दो दिनों की बारिश ने कई किसानों की फसल को बर्बाद कर दिया है। बारिश के बावजूद उमस बढ़ी है। 



एमपी के शहरों का अधिकतम तापमान 


मध्यप्रदेश के कई राज्यों में दो दिनों से लगातार बारिश हो रही है। मौसम विभाग के अनुसार आज भी बारिश की संभावना है। देर रात कई इलाकों में जोरदार बारिश हो सकती है। दो दिनों की बारिश के बाद भी उमस बनी हुई है। भोपाल का अधिकतम तापमान 33.8 डिग्री सेल्सियस, इंदौर 33.2, उज्जैन 35.0, रीवा 31.4, उमरिया 32.0 खजुराहो 35.0, सागर 33.0 ग्वालियर 37.1, होशंगाबाद 33.0 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान है।


छत्तीसगढ़ के शहरों का अधिकतम तापमान


राजधानी रायपुर में 3 दिन से लगातार बारिश का दौरा जारी है। बारिश के बाद आम लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि मानसून के अंतिम वक्त में हुई बारिश के बाद आम लोगों को उमस और गर्मी से थोड़ी राहत भी मिली है। शहर के राजेंद्र नगर, प्रोफेसर कॉलोनी समेत कई अन्य इलाकों में जलजमाव की वजह से स्थानीय लोगों को परेशानी बढ़ गई है। मौसम विभाग ने अगले कई दिनों में तक भारी बारिश का अनुमान है। रायपुर का अधिकतम तापमान 30.3, अंबिकापुर 29.0, बिलासपुर 29.0, पेंड्रा रोड 28.3, जगदलपुर 29.6 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान है।  

और भी..
loading...

मध्यप्रदेश की बड़ी खबरें

छत्तीसगढ़ की बड़ी खबरें

वर्गीकृत फोटोन्यूज़
Today's Issue

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगी आग से सरकार के अपने भी जलने लगे हैं। वैट पर सवाल उठने लगे हैं। उधर पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों के खिलाफ मंगलवार को इंदौर में कांग्रेस ने भी जन आक्रोश रैली निकाली। नेता प्रतिपक्ष ने तो लेटर लिखकर वैट कम किए जाने की मांग भी की। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने भी वैट पर सरकार को घेरा है। वहीं इस पर सरकार की दलील है कि राजस्व बढ़ाने के लिए वैट लगाया गया है। 


पूरे देश में फ्यूल के रेट बढ़े हुए हैं, लेकिन इस पर लगने वाले वैट की बात करें तो मध्य प्रदेश में ये ज्यादा है। यहां पेट्रोल पर 31 पर्सेट वैट लगता है। वहीं डीजल पर 27 पर्सेंट वैट। इसके अलावा एडिशनल टैक्स भी लिया जाता है। 1 लीटर पेट्रोल पर 4 रुपए, वहीं डीजल पर 1.50 रुपए वसूला जाता है। 


वहीं छत्तीसगढ़ की बात करें तो, यहां तो फ्यूल पर 25 फीसदी वैट के साथ डेढ़ रुपए प्रति लीटर अतिरिक्त टैक्स लिया जाता है। 


इन परिस्थितियों के बीच केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान को उम्मीद है कि दिवाली में रेट कम हो जाएंगे लेकिन सवाल वही है कैसे, जब अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमत कम है तब भी पेट्रोल-डीजल के भाव बढ़े हुए हैं। इतने पर राज्य वैट कम करने को तैयार नहीं दिखता है।




ख़बर का वीडियो देखने के लिए क्लिक करें



और भी..
आज का सवाल

नतीजा            पिछला सवाल

क्या हमारे बच्चे स्कूल-कॉलेज में सुरक्षित हैं ?


         

थैंक यू डॉक्टर !
मध्य प्रदेश
खबरें शहरो से
छत्तीसगढ़

Follow Us

       
विज्ञापन के लिए संपर्क करे
x